NCERT Class 6 Notes

अध्याय – 2 भोजन के घटक

विभिन्न प्रकार के खाद्य पदार्थो में क्या-क्या होता है हमारा भोजन आमतौर से हमें हमें पौधों या जानवरों से मिलता है, प्रत्येक पकवान (भोजन) को बनाने में एक से अधिक सामग्री का प्रयोग किया जाता है। खाद्य पदार्थों के सुदृढ़ीकरण से अभिप्राय है कि मुख्य भोजन जैसे-चावल, गेहूं, तेल, दूध और नमक में प्रमुख विटामिनों …

अध्याय – 2 भोजन के घटक Read More »

अध्याय – 1 भोजन यह कहाँ से आता है ?

खाद्य प्रदार्थ भोजन हमारे जीवन की मूल आवश्यकताओं में से एक है। वह कई खाद्य पदार्थो से बनता है। इस मिश्रण में अनाज, दलहन, तेलहन शाक, सब्जियाँ, दूध या दूध से बने पदार्थ, मांस, मछली, अण्डा आदि हो सकते हैं। इसका मिश्रण, रूची, स्वाद, उपलब्धता तथा आर्थिक क्षमता पर निर्भर करता है। खाद्य पदार्थों के …

अध्याय – 1 भोजन यह कहाँ से आता है ? Read More »

पाठ-11 इमारतें, चित्र तथा किताबें

इस अध्याय में स्तूप निर्माण के बारे में जानकारी दी गई है। हिन्दू पौराणिक ग्रंथों एवम मंदिरों के बारे में भी बताया गया है साथ ही महान गणितज्ञ आर्यभट्ट की भी चर्चा की गई है । लौह स्तम्भ महरौली में कुतुबमीनार के परिसर में खड़ा लौह स्तम्भ करीब 1500 वर्ष पुराना है। इस स्तम्भ की …

पाठ-11 इमारतें, चित्र तथा किताबें Read More »

पाठ- 10 नए साम्राज्य और राज्ये

क्या बताती है प्रशस्तियाँ यह एक विशेष किस्म का अभिलेख है। प्रशस्ति एक संस्कृत शब्द है प्रशस्ति का अर्थ प्रशंसा होता है। समुद्रगुप्त के बारे में उसके दरबारी कवी हरिषेण दवारा करीब 1700 वर्ष पहले संस्कृत लिखी एक कविता से पता चलता है। प्रयाग, उज्जैन तथा पाटिलीपुत्र गुप्त शासन के महत्वपूर्ण केंद्र थे। वंशावलियाँ अधिकांश …

पाठ- 10 नए साम्राज्य और राज्ये Read More »

पाठ-9 व्यापारी,राजा और तीर्थयात्री

व्यापार और व्यापारी दक्षिण भारत सोना, मसाले, काली मिर्च तथा कीमती पत्थरो के लिए प्रसिद्ध था। काली मिर्च के रोमन में इतने माँग थे की इसे काले सोन के नाम से बुलाने लगे थे। व्यापारियों ने कई समुद्री रस्ते खोज निकाले थे। इनमे से कुछ समुद्र के किनारे चलते थे कुछ अरब सागर और बंगाल …

पाठ-9 व्यापारी,राजा और तीर्थयात्री Read More »

पाठ-8 खुशहाल गाँव और समृद्ध शहर

लोहे के औजार और खती उपमहाद्वीप में लोहे का प्रयोग 3000 वर्ष पहले शुरू हुआ था। महापाषाण कब्रों में लोहे के औजार और हथियार बड़ी संख्या में मिले है। गाँव में रहने वाले लोग गाँव में तीन प्रकार के लोग रहते थे। वेल्लाला- तमिल क्षेत्र में बड़े भू-स्वामी। उड़वार- साधारण हलवाहे। कदैसियर- भूमिहीन मजदूर और …

पाठ-8 खुशहाल गाँव और समृद्ध शहर Read More »

पाठ-7 अशोक: एक अनोखा सम्राट जिसने युद्ध का त्याग किया

मौर्य साम्राज्य मौर्य वंश के तीन महत्वपूर्ण राजा हुआ करते थे। अशोक बिन्दुसार के पुत्र थे। साम्राज्य की राजधानी पाटलिपुत्र हुआ करते थी। तक्षशिला उत्तर पश्चिम और मध्य एशिया के लिए जाने का मार्ग था। अशोक एक अनोखा सम्राट अशोक मौर्य वंश के सबसे प्रसिद्ध शासक थे। अशोक के ज्यादातर अभिलेख प्राकृत भाषा और ब्राम्ही …

पाठ-7 अशोक: एक अनोखा सम्राट जिसने युद्ध का त्याग किया Read More »

पाठ-6 नए प्रश्‍न नए विचार

महात्मा बुद्ध बुद्ध का बचपन का नाम सिद्धार्थ था। बाद में वह बौद्ध धर्म के संस्थापक बने। उनका जन्म 2500 वर्ष पहले हुआ था। बुद्ध क्षत्रिय थे, जो शाक्य नामक एक छोटे से गण से सम्बंधित थे। उपनिषद अर्थ-गुरु के समीप बैठना उपनिषद उत्तर वैसिक ग्रंथो का हिस्सा था। 3500 वर्ष बाद यह समय लिखा …

पाठ-6 नए प्रश्‍न नए विचार Read More »

पाठ-5 राज्य, राजा और एक प्राचीन गणराज्य

उत्तर वैदिक काल: इस अध्याय में जनपदों, महाजनपद व गण की चर्चा की गई है। इसी के साथ-साथ मगध साम्राज्य की एवम सिकंदर के बारे में भी बताया गया है। राजा का चुनाव जनों द्वारा होता था, परन्तु लगभग 3000 साल पहले कुछ लोग अश्वमेघ यज्ञ करवाकर राजा बने थे। आम जनता इस अनुष्ठान में …

पाठ-5 राज्य, राजा और एक प्राचीन गणराज्य Read More »

पाठ-4 क्या बताते है हमे किताबे और कब्रें

दुनिया के प्राचीनतम ग्रंथों में से एक: वेद चार प्रकार के होते है, ऋग्वेद,सामवेद,यजुर्वेद तथा अथर्वेद। सबसे पुराण वेद है ऋग्वेद जबकि रचना लगभग 3500 साल पहले हुई। ऋग्वेद का उच्चारण किया जाता था और श्रवण किया जाता था, न कि पढ़ा जाता था। संस्कृत एवं अन्य भाषाएंसंस्कृत भाषा भारोपीय (भारत – यूरोपीय) भाषा परिवार …

पाठ-4 क्या बताते है हमे किताबे और कब्रें Read More »