पाठ-1 कब,कहाँ, क्या और कैसे?

इतिहास के बारे मे कैसे पता लगाए

इतिहास जानने के मुख्य साधन –

  •  पत्थरों के औजार
  •  जीवाश्म
  •  मिट्टी के बर्तन
  •  शिलालेख
  •  सिक्के/मुहरें
  •  मंदिर/ मस्जिद
  •  भवन/महल
  • भोजपत्र/ ताड़पत्र/ ताम्रपत्र
  •  पुरातत्व 
  • यात्रियों के वृत्तांत 
  • हस्तलिपि
  • बालू घड़ी 

अतीत के बारे में हम क्या जान सकते है ?

अतीत के बारे में बहुत कुछ जाना जा सकता है –

  • लोग क्या खाते थे/ कहाँ से लाते थे ?
  •  कैसे कपड़े पहनते थे?
  • किस तरह के घरों में रहते थे?
  •  आखेटकों (शिकारियों)
  • कृषकों
  • शासकों
  • व्यापारियों
  •  पुरोहितों
  • वैद कैसे ईलाज करते थे ? /कौनसी जड़ी बूटी का प्रयोग करते थे ?

लोग कहाँ रहते थे ?

  • नर्मदा नदी के तट पर 
  • सिंधु व गंगा नदी की सहायक नदि के किनारे 
  • सुलेमान और किरथर पहाड़िया 
  • गारो और सोन 

देश का नाम 

  • अपने देश को हम भारत या इंडिया क नाम से जानते व प्रयोग करते है। 
  • इंडिया शब्द इंडस से निकला है जिससे सिंधु भी कहा जाता है। 
  • लगभग 2500 वर्ष पूर्व कुछ ईरानियों और यूनानियों ने सिंधु को हिन्दोस अथवा इंडोस और इस नदी के पूर्व मैं स्तिथ भूमि प्रदेश को इंडिया कहा, और इस तरह भारत व इंडिया नाम प्रयोग करा जाने लगा। 

कुछ महतवपूर्ण तिथियाँ 

  • कृषि का आरम्भ 8000 वर्ष पूर्व 
  • सिंधु सभ्यता के प्रथम नगर – 4700 वर्ष पूर्व 
  • गंगा घाटे के नगर ,मगद का राज्य – 2500 वर्ष पूर्व 
  • वर्तमान –लगभग 2000 वर्ष पूर्व 

उपमहाद्वीप का प्राकृतिक मानचित्र 

उपमहाद्वीप का प्राकृतिक मानचित्र 

आओ याद करें

प्रश्‍न 1. निम्नलिखित का सुमेल करो:
नर्मदा घाटी           –       पहला बड़ा राज्य
मगद                     –       आखेट तथा संग्रहण
गारो पहाड़ियाँ      –       लगभग 2500 वर्ष पूर्व के नगर
सिंधु तथा इसकी सहायक नदियाँ  –   आरंभिक कृषि
गंगा घाटी             –       प्रथम नगर

उत्तर: उपरोक्त प्रश्न का सही मिलान इस प्रकार है.

नर्मदा घाटी           –     आखेट तथा संग्रहण
मगद                     –     पहला बड़ा राज्य
गारो पहाड़ियाँ       –    आरंभिक कृषि 
सिंधु तथा इसकी सहायक नदियाँ  –   प्रथम नगर
गंगा घाटी              –     लगभग 2500 वर्ष पूर्व के नगर

प्रश्‍न 2. पाण्डुलिपियों तथा अभिलेखों में एक प्रमुख अंतर बताओ।
उत्तर : पाण्डुलिपियाँ – पाण्डुलिपियाँ ताडपत्रों अथवा भोजपत्रों पर हाथ से लिखी जाती थी।
            अभिलेख- अभिलेखोंको पत्थर या धातु जैसी कठोर सतहों पर उत्कीर्ण  खोदकर लिखना किया जाता था।

आओ चर्चा करें 

प्रश्‍न 3. रशीदा के प्रश्न को फिर से पढ़ो। इसके क्या उत्तर हो सकते हैं?
उत्तर :हमें अतीत के विषय में पाण्डुलिपियों व अभिलेखों का अध्ययन करके जानकारी प्राप्त की जा  सकती है। इसके अलावा ऐसी बहुत चीज़े है, जिनके द्वारा भी जानकारियाँ मिलती हैं।जैसे की:- ईंट और पत्थरों से बनी इमारतों के अवशेषों,मूर्तियों, औजारों, चित्रों,  हथियारों, बर्तनों तथा  सिक्कों आदि।

प्रश्‍न 4. पुरातत्त्वविदों द्वारा पाई जाने वाली सभी वस्तुओं की एक सूची बनाओ। इनमें से कौन-सी वस्तुएँ पत्थर की बनी हो सकती हैं?
उत्तर :पुरातत्त्वविदों द्वारा पाई जाने वाली वस्तु:-
 हथियार/औजार 
आभूषण
मुर्तिया
इमारते 

प्रश्‍न 5. साधारण स्त्री तथा पुरुष अपने कार्यों का विवरण क्यों नहीं रखते थे? इसके बारे में तुम क्या सोचती हो?
उत्तर : साधारण स्त्री और पुरुष अपने कार्यों का विवरण नहीं रखते थे. इसके निम्नलिखित कारण हो सकते हैं:-
1. साधारण स्त्री और पुरुष अपने कार्यों को इतना महत्वूर्ण नहीं मानते होंगे की उसका विवरण बनाया जाए। 
2. या उन् लोगो को पढ़ना लिखना नहीं आता होगा।
3. वह लोग गरीब हो और लिखाई कराने का कार्य मेहंगा हो। 

प्रश्‍न 6. कम से कम दो ऐसी बातों का उल्लेख करो, जिनसे तुम्हारे अनुसार राजाओं और किसानों के जीवन में भिन्नता का पता चलता है।
उत्तर : राजाओं और किसानों के जीवन में भिन्नता:-
राजाओ का जीवनसूख सुविधा आराम वैभव से परिपूर्ण होता था। दूसरी ओर किसानो का  जीवन बहूत ही सामान्य व परिश्रम से परिपूर्ण होता था।
राजा अपने राज्य से सम्भंधित सभी चीज़ो का लेखा जोखा करवाया करते थे , जबकि किसान अपने कार्य का कोई लेखा जोकि नहीं करते थे।

प्रश्‍न 7. पृष्ठ 1 पर शिल्पकार शब्द का पता लगाओ। आज प्रचलित कम से कम पाँच भिन्न-भिन्न शिल्पों की सूची बनाओ। क्या ये शिल्पकार
    (क) स्त्री,
    (ख) पुरुष,
    (ग) स्त्री तथा पुरुष दोनों होते हैं?

  उत्तर : (क) भवन शिल्प -पुरुष 
             (ख) चर्म शिल्प -पुरुष 
             (ग) हस्त शिल्प -स्त्री तथा पुरुष 
             (घ) काष्ट शिल्प -स्त्री तथा पुरुष 
             (ड) मूर्ति शिल्प -स्त्री तथा पुरुष 

प्रश्‍न 8. अतीत में पुस्तकें किन-किन पर लिखी गई थीं? तुम इनमें से किन पुस्तकों को पढ़ना पसंद करोगी?

 उत्तर : अतीत में निम्नलिखित विषयों पर पुस्तकें लिखी गयी थी:
व्यापार
धर्म 
जड़ीबूटी व विज्ञानं 
महाकाव्य कविताए व नाटक 
राज्यों व राजाओ का जीवन 

    मै जड़ीबूटी व विज्ञानं की पुस्तकों को पढ़ना पसंद करूंगी

Leave a Comment

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.