Vitamin

विटामिन्स क्या हैं? (Vitamin)

विटामिन एक कार्बोनिक यौगिक हैं जो हमारे शरीर को सही ढंग से कार्य करने की शक्ति प्रदान करते हैं. शरीर को विटामिन्स की बहुत कम मात्रा में आवश्यकता होती है परतुं यह मात्रा हमें प्रतिदिन ग्रहण किये भोजन से प्राप्त होती है. विटामिन का निर्माण शरीर स्वयं नहीं कर पाता जिसके फलस्वरूप जो हम खाते हैं उससे ही विटामिन शरीर को प्राप्त होता है. विटामिन्स जीवन रक्षक के रूप में हमारे शरीर की विभिन्न रोगों से लड़ने में सहायता प्रदान करते है.

विटामिन्स के स्वास्थ्य लाभ

विटामिन्स के अनेकों स्वास्थ्य लाभ हैं. विटामिन में हृदय रोगों, उच्च कोलेस्ट्रॉल के स्तर, नेत्र विकार और त्वचा विकार सहित विभिन्न रोगों को रोकने और उनका इलाज करने की क्षमता होती है. अधिकांश विटामिन हमारे शरीर के कई तंत्रों को कार्य करने में मदद करते हैं जो किसी अन्य पोषक तत्व के सेवन से नहीं होता. तो चलिए आज हम आपको विटामिन्स के स्वास्थ्य लाभ के बारे में बताते हैं. विटामिन रोगों से हमारे शरीर की रक्षा करते है, विटामिन हमारी आँख, अस्थियां, दांत और मसूड़ों को स्वस्थ रखने में सहायता करते है.

विटामिन की खोज और इतिहास

सन 1885 में डच वैज्ञानिक ऐजिकमेन ने चूजों पर किए गए एक प्रयोग से यह जाना कि शरीर में विटामिन नामक एक महत्त्वपूर्ण रासायनिक तत्त्वों की उपस्थिति होती हैं. उसके साथ ही 1886 में ऐजिकमेन ने इंडोनेशिया में फैला बेरी-बेरी नामक बीमारी से लोगों को मरते देखा तो वे इस रोग कारणों की खोज में जुट गए. इस दौरान उन्होंने जब सभी तत्त्वों का अध्ययन किया तो उन्होंने पाया कि बेरी-बेरी रोग का कारण भोज्य पदार्थों में उन तत्त्वों की कमी होना है जो विटामिन होते हैं. परंतु ऐजिकमेन की यह खोज अपूर्ण रही, क्योंकि उनको विटामिनों के महत्त्व और स्रोतों का पता नहीं चल पाया.

इसके बाद 1912 में हापकिंस ने यह सिद्ध किया कि शरीर को स्वस्थ रखने के लिए निश्चित मात्रा में विटामिनों की आवश्यकता होती है. उन्होंने बताया कि कुछ विशेष रोग विटामिनों की कमी का कारण होते है और भोजन में विटामिन तत्त्वों वाले पदार्थ का सेवन करके इन रोगों को दूर किया जा सकता है. शरीर को स्वस्थ और निरोगी रखने में इनकी महत्त्वपूर्ण रासायनिक तत्त्व विटामिन की खोज के लिए ऐजिकमेन हापकिंस 1929 में नोबेल पुरस्कार से सम्मानित किया गया था.

विटामिन के प्रकार

यह दो प्रकार के होते है –

(1). वसा में घुलनशील (Soluble in Fat) – Vitamin A, D, E and K

(2). जल में घुलनशील (soluble in water) – Vitamin B Complex, Vitamin C,

वसा में घुलनशील (Soluble in Fat) – Vitamin A, D, E and K

Vitamin Aरेटिनॉलदूध, मख्खन, गाजर, पपीतारतौंधी
Vitamin Dकैल्सिफेरॉलमख्खन, दूध, मछली, अंडेरिकेट्स
Vitamin Eटोकोफेरोलहरी पत्तिया, अंडेजनन क्षमता में कमी
Vitamin Kनैप्थोक्विनॉलहरी पत्तियां, पनीर, अंडारक्त का थक्का नहीं बन पाता

जल में घुलनशील (soluble in water) – Vitamin B Complex,

Vitamin B1थायमिनअनाज, फल, अंडेबेरी-बेरी
Vitamin B2राइबोफ्लेविनपनीर, अंडा, गेहूँ, मांसकोलेसिस
Vitamin B5निकोटिनिक अम्लमछली, दालेंपेलाग्र
Vitamin B6पाइरीडॉक्सिनदूध, अनाज, मांसएनीमिया
Vitamin B3पेन्टोथेनिक अम्लदूध, टमाटर, मूंगफली, अंडाचर्म रोग
Vitamin B12साइनोकोबालमिनमांस, मछली, अंडा, दूधधीमी बृद्धि

Leave a Reply